जनजाति समाज भारत का गहना है –अमित शाह

जनजाति समाज भारत का गहना है –अमित शाह

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने  गुजरात के छोटा उदयपुर के देवलिया गांव में बूथ कमिटी मीटिंग और बोडेली गांव के श्री स्वामीनारायण मंदिर के प्रांगण में आदिवासी बंधुओं द्वारा आयोजित गोष्ठी को संबोधित किया और गुजरात में फिर से भारतीय जनता पार्टी की दो-तिहाई बहुमत की सरकार बनाने की अपील की। विदित हो कि  अमित शाह  देश के सभी राज्यों में कुल 110 दिनों के अपने विस्तृत प्रवास कार्यक्रम के तहत एक दिवसीय दौरे पर गुजरात में हैं। ज्ञात हो कि चार लाख से अधिक कार्यकर्ता पंडित दीनदयाल उपाध्याय जन्मशती कार्य विस्तारक योजना के तहत 15 दिन, 6 महीना और एक साल के लिए देश भर में पूर्णकालिक के रूप में बूथ-स्तर पर पार्टी की मजबूती के लिए काम करने को निकले हैं, अकेले गुजरात में लगभग 48 हजार कार्यकर्ता इस योजना के तहत बूथ-स्तर पर भाजपा को और मजबूत करने के लिए काम कर रहे हैं।

अमित शाह ने अपने गुजरात दौरे की शुरुआत छोटा उदयपुर के आदिवासी गांव देवलिया गांव की जहां उनका पारंपरिक तरीके से भव्य स्वागत किया गया। उन्होंने घर-घर जाकर जनसंपर्क किया, घरों के दरवाजों पर स्टीकर चिपकाए और प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार की तीन साल की उपलब्धियों और गरीबों के कल्याण के लिए शुरू की गई योजनाओं पर बुकलेट भी बांटे। राष्ट्रीय अध्यक्ष गांव के कई घरों में भी गए जहां आदिवासी महिलाओं ने उनकी आरती उतारी और स्वागत किया। अमित शाह ने मोबाइल से मिस्ड कॉल के जरिये कई आदिवासी लोगों को भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता भी दिलाई। इसके बाद उन्होने गांव में आयोजित बूथ कमिटी मीटिंग में भाग लिया और कार्यकर्ताओं के साथ बूथ-स्तर पर पार्टी की मजबूती के लिए चलाये जा रहे कार्यक्रमों की समीक्षा की। बूथ कमिटी मीटिंग में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने हर बूथ को भाजपा का मजबूत गढ़ बनाने की अपील की।

बूथ कमिटी मीटिंग में बोलते हुए श्री शाह ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी गुजरात में तो मजबूत है ही लेकिन यह हमारे लिए विश्राम का नहीं बल्कि और अधिक मेहनत करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय जन्मशती कार्य विस्तारक योजना से गुजरात में भारतीय जनता पार्टी को बहुत बड़ी ताकत मिलेगी और भाजपा फिर से सत्ता में आयेगी। उन्होंने कहा कि पार्टी कार्यकर्ता भारतीय जनता पार्टी की विचारधारा और प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार की तीन वर्ष की उपलब्धियों को लेकर घर-घर जाएं और हर बूथ को भाजपा का मजबूत गढ़ बनाने के लिए जुट जाएं। उन्होंने कहा कि श्री नरेन्द्र भाई मोदी जी जब गुजरात के मुख्यमंत्री थे, तब राज्य में भारतीय जनता पार्टी की 120 सीटें थी, अब तो वे देश के प्रधानमंत्री हैं, अब गुजरात में हमारी 150 सीटें आयेंगी।

शाह ने कहा कि आज देश में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी की सरकार है। उन्होंने कहा कि आज जब भारत के लोग विदेशों में जाते हैं तो लोग पूछते हैं कि आप मोदी जी के भारत से आये हैं, यह हमारे लिए गौरव का विषय है।

बूथ कमिटी मीटिंग के पश्चात माननीय राष्ट्रीय अध्यक्ष ने पार्टी कार्यकर्ता एवं देवलिया गांव के बूथ प्रमुख श्री पोपट भाई ईश्वर भाई राठवा जी के निवास पर दोपहर का भोजन किया। इसके बाद अध्यक्ष जी छोटा उदयपुर के आदिवासी क्षेत्र बोडेली गांव पहुंचे जहां उन्होंने श्री स्वामीनारायण मंदिर के प्रांगण में आदिवासी बंधुओं के गोष्ठी कार्यक्रम ‘आदिवासी आगेवान मिलन समारोह’ को संबोधित किया। इस कार्यक्रम में विभिन्न एनजीओ, साधु-संतों और आदिवासी समुदाय के लगभग 500 प्रतिनिधि शामिल हुए।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि 1990 से 2017 तक गुजरात में जितने भी चुनाव हुए हैं, गुजरात की जनता ने एक भी चुनाव में भाजपा को नहीं हराया है, इसका पूरा श्रेय मोदी जी के नेतृत्त्व वाली गुजरात सरकार और केंद्र सरकार की नीतियों और जन-कल्याणकारी योजनाओं को जाता है। उन्होंने कहा कि मैं आज इस गोष्ठी के माध्यम से आप सभी से अपील करना चाहता हूं कि गुजरात की सभी आदिवासी सीट भारतीय जनता पार्टी को मिले, यह अपील मैं आदिवासी क्षेत्र में लोगों के विकास के लिए भाजपा सरकार द्वारा किये गए काम के आधार पर कर रहा हूं।

Layout 1

शाह ने कहा कि जब कांग्रेस का शासन था, तब आदिवासी क्षेत्र में न तो बिजली थी, न पानी की व्यवस्था थी, न सडक़ें थीं और न ही स्वास्थ्य की समुचित व्यवस्था थी, गुजरात को कांग्रेस राज्य में मिला तो केवल कफर््यू और हिंसा। उन्होंने कहा कि जब 2001 से गुजरात में नरेन्द्र भाई मोदी की सरकार आई तो हर घर को 24 घंटे बिजली मिली, पाठशालाएं बनी, शालाओं में शिक्षकों की नियुक्ति हुई, समुचित स्वास्थ्य सेवायें उपलब्ध करवाई, यह मोदी जी के नेतृत्त्व वाली गुजरात की कहानी है। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने गुजरात को एक कफर््यू-मुक्त राज्य बनाने का काम किया है।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि  नरेन्द्र भाई मोदी जी ने गुजरात को विकास के एक मॉडल स्टेट के रूप में प्रतिष्ठित किया। उन्होंने कहा कि गुजरात का जो विकास मॉडल था, वह किसी जाति, धर्म, पंथ और क्षेत्र तक सीमित नहीं था बल्कि यह एक सर्वस्पर्शी और सर्वसमावेशी विकास का मॉडल था जिसमें विकास हर तबके, हर जाति और हर पंथ के लोगों तक पहुंचा।

शाह ने कहा कि मोदी सरकार और भारतीय जनता पार्टी आदिवासियों के कल्याण एवं विकास के लिए कटिबद्ध है। उन्होंने कहा कि गुजरात में अब तक मोदी जी के नेतृत्व में भाजपा सरकार ने 1 लाख 17 हजार 575 एकड़ जमीन आदिवासियों को सुपुर्द की जबकि कांग्रेस के समय गुजरात के आदिवासी किसी भी लाभ से वंचित थे। उन्होंने कहा कि क्कश्वस््र योजना के माध्यम से गुजरात सरकार ने यह सुनिश्चित किया कि आदिवासी क्षेत्र में वन संपत्तियों की बिक्री से होने वाली आय को ग्राम पंचायत के माध्यम से आदिवासियों के ही विकास में काम आये।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि आदिवासी समाज भारतीय समाज एवं संस्कृति का गहना है जिसको संरक्षित करने की जरूरत है और गुजरात की भारतीय जनता पार्टी सरकार ने इस दिशा में कई कार्य किये हैं। उन्होंने कहा कि राज पीपला में एक आदिवासी संग्रहालय बनवाया गया, आदिवासियों छात्रों के लिए 6 होस्टल बनवाये गए और 15 लाख आदिवासी छात्रों के लिए भोजन और यूनिफॉर्म की व्यवस्था की गई, आदिवासियों के कल्याण के लिए 485 करोड़ रुपये की सब्सिडी दी गई और लगभग 10 हजार करोड़ रुपये की राशि वाली ग्राम सडक़ योजना में से लगभग 4800 करोड़ रुपये की राशि आदिवासी क्षेत्र में ग्राम सडक़ योजना के लिए आवंटित किये गए। उन्होंने कहा कि 2004 में नरेन्द्र भाई मोदी ने जनसंख्या के आधार पर आदिवासियों के लिए योजनायें बनाने और सुविधाएं देने की पहल शुरू की जो अब भी जारी है। उन्होंने कहा कि इसके अंतर्गत दाहोद और तापी में एक-एक मेडिकल कॉलेज बनवाया गया। उन्होंने कहा कि राज्य में गरीबों के लिए बनने वाले पांच लाख घरों में से डेढ़ लाख घर आदिवासी समुदाय के लोगों के लिए बनेंगे। उन्होंने कहा कि आदिवासियों के कल्याण के लिए इन सभी योजनाओं की शुरुआत कर हमने कोई उपकार नहीं किया है, बल्कि यह तो आदिवासी लोगों का अधिकार है, यही भारतीय जनता पार्टी की अन्त्योदय की नीति और सिद्धांत है ताकि विकास और योजनाओं का फायदा समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचे। उन्होंने कहा कि वन बंधु कल्याण योजना के अंतर्गत आदिवासी गांव, आदिवासी व्यक्तियों और आदिवासी क्षेत्र- सबका विकास हो, यह गुजरात की भाजपा सरकार ने सुनिश्चित किया है। उन्होंने कहा कि ये सभी गरीबों के कल्याण की योजना है, विकास का यज्ञ है और जनता का विश्वास है जिससे भाजपा को गुजरात में एक बड़ी जीत मिलने वाली है।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केंद्र की भारतीय जनता पार्टी सरकार द्वारा पिछले तीन साल में जन-कल्याण एवं देश के विकास के लिए शुरू की गई 106 योजनाओं की चर्चा करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री जी ने विकास को समाज के अंतिम छोर पर खड़े व्यक्ति तक पहुंचाने का प्रबंध किया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश को पॉलिसी पैरालिसिस की स्थिति से निकाला है और देश को एक निर्णायक, पारदर्शी एवं भ्रष्टाचार मुक्त शासन दिया है। उन्होंने कहा कि चाहे सर्जिकल स्ट्राइक हो या फिर अंतरिक्ष में एक साथ 104 उपग्रह आकाश में छोड़े जाने की बात हो, आज पूरे विश्व में भारत एक शक्तिशाली राष्ट्र के रूप में प्रतिष्ठित हुआ है।

(उदय इंडिया ब्यूरो)светотехника img-lightingВладимир мунтян пастор биография

Leave a Reply

Your email address will not be published.