item-thumbnail

डूबते सूरज की बिदाई नववर्ष का स्वागत कैसे

0 January 14, 2018

पेड़ अपनी जड़ों को खुद नहीं काटता, पतंग अपनी डोर को खुद नहीं काटती, लेकिन मनुष्य आज आधुनिकता की दौड़ में अपनी जड़ें और अपनी डोर दोनों काटता जा रहा है।...

item-thumbnail

आखिर क्यों हम अपने बच्चों को नहीं बचा पा रहे?

0 December 28, 2017

1 दिसंबर 2017, कोलकाता के जीडी बिरला सेन्टर फॉर एजुकेशन में एक चार साल की बच्ची के साथ उसी के स्कूल के पी टी टीचर द्वारा दुष्कर्म। 31 अक्टूबर को मध्य ...

item-thumbnail

स्वाभाविक प्रयास आवश्यक

0 December 14, 2017

गत 29 अक्टूबर को हरिद्वार प्रेस क्लब में एक पत्रकार वार्ता के माध्यम से कुछ पत्रकार मित्रों से बड़ी आकर्षक चर्चा हुई। पत्रकार वार्ता में कई बार मुझे य...

item-thumbnail

कब कोई बच्चा स्कूल में फेल नहीं होगा?

0 September 6, 2017

उस सुबह प्रोफेसर मुरारीलाल आते ही तपाक से बोले: मैंने  सुना है कि इधर  एक नया निर्णय लिया गया है जिसके अनुसार कक्षा आठ तक बच्चों की परीक्षा न लेने की ...

item-thumbnail

युवा ही जोड़ेंगे भारत को

0 August 24, 2017

उस दिन प्रोफेसर साहेब के चेहरे पर उत्साह साफ दिखाई दे रहा था। एक दिन पहले ही हम लोगों ने तय किया था कि भारत छोड़ो आन्दोलन की 75वीं वर्षगाँठ पर हम संसद...

item-thumbnail

सड़कों पर संवेदनहीनता

0 August 10, 2017

लम्बे प्रवास के बाद लौटे प्रोफेसर मुरारीलाल जब पहली बार प्रात: मिले तो काफी उदास तथा चिंतित दिखाई दिए। सामान्यत: वे इस स्थिति में नहीं देखे जाते हैं, ...

item-thumbnail

माता-पिता का स्थाई दर्द परिवार से बिछड़े बच्चे

0 April 21, 2017

परिवार से बिछडऩे का गम एक विचित्र प्रकार के भय और दर्द से भरा होता है। विशेष रूप से जब कोई बच्चा अपने परिवार से बिछड़ता है तो माता-पिता के मन में उसी ...

item-thumbnail

महिलाओं की कम होती संख्या एक ज्वलंत समस्या

0 April 6, 2016

न्यूयॉर्क टाइम्स में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक भारत में महिलाओं की संख्या पुरूषों के अनुपात में घट रही है। इसी प्रकार चीन में भी वर्षों से महिलाओं और ...

1 2