प्रमुख लेख

item-thumbnail

रिकार्डधारी फर्राटा धावक साहेब दो जून की रोटी को मोहताज आंखें नहीं पर बिहारी धावक बढ़ा रहा पश्चिम बंगाल का गौरव

0 November 30, 2017

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने नि:शक्तजनों को दिव्यांग नाम देकर बेशक सुर्खियों बटोर ली हों लेकिन नि:शक्त खिलाडयि़ों की पीर कम होने के बजाय लगातार बढ़ती...

item-thumbnail

लंका पर बजा भारत का डंका: विराट कोहली की कप्तानी में भारत ने रचा इतिहास

0 September 22, 2017

क्रिकेट अनिश्चितताओं का खेल है। भारतीय टीम ने श्रीलंका दौरे में जैसा प्रदर्शन किया वह न केवल ऐतिहासिक है बल्कि इस खेल के करोड़ों प्रशंसकों के लिए न भू...

item-thumbnail

खेलों की साख पर बट्टा  भारतीयों खेलों पर बेईमानों का राज 

0 May 4, 2017

जय-पराजय खेल का हिस्सा है। आज हम हारेंगे तो कल जीतेंगे भी। खेलों की दुनिया में ऐसा कौन सा खिलाड़ी है जिसे कभी पराजय से वास्ता न पड़ा हो। आज दुनिया के ...

item-thumbnail

एकदिवसीय को टी२० न बनाएं

0 February 8, 2017

कहते हैं क्रिकेट के खेल के तीन मुख्य पहलु होते हैं- बल्लेबाजी, गेंदबाजी और क्षेत्ररक्षण। इन तीनों पहलुओं से खेल में रोमांच बना रहता है। लेकिन इनमें से...

item-thumbnail

विराट कोहली जैसा नाम, वैसा काम

0 January 11, 2017

विराट, विराट, विराट। क्रिकेट की दुनिया में आज हर तरफ बस यही नाम गूंज रहा है, वजह इस खिलाड़ी का फौलादी प्रदर्शन और इसकी कुशल नेतृत्व क्षमता है। भारत मे...

item-thumbnail

2016 भारत के लिए रहेगा यादगार

0 December 29, 2016

भारत में खेलों का कितना महत्व दिया जाता है। यह हम सभी जानते हैं। क्रिकेट को छोड़ अन्य सभी खेलों के लिए हमारे पास कितनी मूलभूत सुविधाएं हैं यह भी सभी ज...

item-thumbnail

हरफनमौला अश्विन

0 December 16, 2016

पांच साल के टेस्ट करियर में ही रविचंद्रन अश्विन ने खुद को न सिर्फ टीम इंडिया के स्ट्राइक गेंदबाज के रूप में वरन एक भरोसेमंद हरफनमौला खिलाड़ी के रूप मे...

item-thumbnail

जीत की गूंज शुरु

0 November 17, 2016

बीते महीने से अब तक भारत की कई मैदानों पर जीतों से उसकी गंूज पूरे विश्व में गूंज रही है। लगातार विजय प्राप्त होने से ऐसा प्रतीत होने लगा है कि खेलों क...

1 2 3