item-thumbnail

चीनी माल खरीदना यानि नाग को दूध पिलाना!

0 August 10, 2017

आजकल सावन का महीना चल रहा है। सावन में नागपंचमी के दिन नाग की पूजा देश के कई हिस्सों में की जाती है। परन्तु प्रकृति के साथ तादातम्य बिठाने के इस कार्य...

item-thumbnail

मोदी की इजरायल यात्रा मगर काशी और येरूशलम में दूरी क्यों?

0 July 28, 2017

प्रधानमंत्री मोदी की इजरायल यात्रा से दिल्ली और तेल अवीव तो नजदीक आ गए हैं मगर सवाल यह है कि काशी और येरूशलम कब करीब होंगे? नयी दिल्ली और तेल अवीव की ...

item-thumbnail

कश्मीर में जल्दबाजी नहीं धैर्य की जरूरत

0 June 29, 2017

भारत को कश्मीर पर कोई जल्दबाजी नहीं करनी चाहिए। जो समस्या 1948 से शुरू हुई और जिसकी जड़ में आपका पड़ोसी पाकिस्तान है वह कोई सरकार अपने कार्यकाल के तीस...

item-thumbnail

हिन्दू-मुस्लिम ध्रुवीकरण कितना सच कितना झूठ

0 June 15, 2017

‘’साहब मोदी एक स्ट्रांग लीडर हैं। एक्शन लेने वाले नेता हैं।‘’ 27 साल के टैक्सी ड्राईवर जाकिर ने ये बात फरवरी के महीने में मुझे कही थी। टैक्सी चलाने वा...

item-thumbnail

पाकिस्तान को लगा डबल झटका

0 June 1, 2017

कुलभूषण जाधव पर अंतराष्ट्रीय न्यायालय के फैसले से हुए नुकसान का पाकिस्तान अभी सही से अंदाजा भी नहीं लगा पाया था कि सऊदी अरब से उसे दूसरा तगड़ा झटका लग...

item-thumbnail

‘मैं नौकरी मांगने वाला नहीं देने वाला बनूंगा’

0 May 18, 2017

नाम- नरप्पा टी उम्र- 23  साल काम- बेंगलुरू में टैक्सी ड्राइवर नरप्पा जिन्हे उनके दोस्त नरेश के नाम से बुलाते हैं, से मेरी मुलाकात अक्समात ही पिछले हफ्...

item-thumbnail

‘आप’ को मिली लक्ष्मण रेखा उल्लंघन की सजा

0 May 4, 2017

दिल्ली एमसीडी के चुनावों के नतीजों का राजनीतिक विश्लेषण तो नेता और  समीक्षक अपनी-अपनी समझ से कर ही रहे हैं। कोई जाति के आधार पर, कोई ईवीएम मशीनों में ...

item-thumbnail

16   हजार की थाली आम से खास होते केजरीवाल    

0 April 21, 2017

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल हमेशा सुर्खियों में रहते हैं। शायद वे मानते हैं कि प्रचार कैसा भी हो- अच्छा या बुरा, होते रहना चाहिए। दिल्ली नगर...

item-thumbnail

बूचडख़ाना तो है बहाना मोदी-योगी है असली निशाना!

0 April 5, 2017

उत्तर प्रदेश के नतीजे आए अभी एक महीना भी नहीं हुआ है लेकिन बुद्धिजीवियों के एक तबके ने ‘बहुमतवाद’ यानि Majorititarianism का भूत पैदा करना शुरू कर दिया...

item-thumbnail

अमत्र्य सेन: कुतर्क से उपजी असहिष्णुता

0 March 22, 2017

महाकवि तुलसीदास ने रामचरितमानस में लिखा है: जाको प्रभु दारुन दु:ख देहीं। ताकी मति पहले हर लेहीं।।’ यानी जिसको दु:ख मिलने वाला होता है सबसे पहले उसकी म...

1 2 3 7