item-thumbnail

अंगूर से होने वाले फायदे

0 March 22, 2017

अंगूर एक बलवर्घक एवं सौन्दर्यवर्घक फल है। अंगूर फल मां के दूध के समान पोषक है। फलों में अंगूर सर्वोत्तम माना जाता है। यह निर्बल-सबल, स्वस्थ-अस्वस्थ आद...

item-thumbnail

अनेक रोगों में कारगर स्वदेशी वनौषधि ‘श्वेत मूसली’

0 March 7, 2017

श्वेत मसनली की खेती मूलत: उष्णकटिबंधीय यूरोप एवं पश्चिमी एशिया में तथा भारत में पश्चिम हिमालय, पंजाब, उत्तराखण्ड में 1600मी. की उंचाई तक तथा गुजरात, उ...

item-thumbnail

एलो वेरा : अनेकों रोगों में कारगर स्वदेशी वनौषधि

0 February 19, 2017

अमरकोष, भावप्रकाश आदि ग्रंथों में एलोवेरा का विशेष उल्लेख प्राप्त होता है। स्थान एवं देश भेद से इसकी कई प्रजातियां पाई जाती हैं, पर इन सबका प्रयोग चिक...

item-thumbnail

दंत, त्वचा और हमारे बाल, करें सुंदरता की मांग

0 December 29, 2016

आज का मनुष्य अपने शरीर के प्राकृतिक रख-रखाव पर ध्यान न देकर विभिन्न रासायनिक उत्पादों के प्रयोग द्वारा बीमारियों को बढ़ावा दे रहा है। दंत, त्वचा एवं ब...

item-thumbnail

संतुलित आहार क्यों ?

0 December 16, 2016

सही खुराक व खेलकूद बच्चों की ग्रोथ के लिए बहुत जरूरी है। आजकल बच्चों को न तो संतुलित आहार मिल रहा है और न ही खेलने-कूदने का पर्याप्त समय ही, जिससे उनक...

item-thumbnail

प्राकृतिक-यौगिक विधि से दूर करें मोटापा

0 December 1, 2016

मोटापा एक शब्द है, जिसको सुनकर प्रत्येक व्यक्ति आंकलन करने लगता है कि कहीं वह मोटा तो नहीं है, यद्यपि आज के परिवेश में रहन-सहन को, आहार-विहार को देखते...

item-thumbnail

यौगिक जीवन शैली अपनायें मोटापा-फोबिया से बचें

0 November 4, 2016

समुचित आहार हमारे स्वास्थ्य का आधार है, अन्नम वै प्राण: अर्थात अन्न में प्राण का निवास माना गया है। इसलिए अन्न हमारे स्वास्थ्य एवं पोषण के लिए आवश्यक ...

item-thumbnail

मौसमी बुखार कहीं बन न जाये डेंगू

0 October 21, 2016

वर्षा ऋतु: जिससे सभी पेड़-पौधे व प्रकृति में हरियाली का समावेश होता है। इसके साथ साथ यह मौसम छोटी-छोटी बीमारियों के आगमन का कारक भी बनता है। इसी मौसम ...

item-thumbnail

श्वास, वातज, उदर आदि रोगों का सामक ‘तेजपात’

0 September 22, 2016

गांव के गोचर में उगे वनौषधीय जंगल अब लुप्त हो रहे हैं। खेतों में कंकरीट के जंगल उग रहे हैं। जड़ी-बूटियों की जगह इंजेक्शन व रासायनिक टेबलेट में स्वास्थ...

item-thumbnail

अमृत है गौ माता का दुग्ध

0 September 8, 2016

भारतीय देसी गाय के दूध को अमृत समान माना गया है। यदि पृथ्वी पर किसी भी खाद्य पदार्थ को संपूर्ण और सर्वोत्तम माना गया है तो वह गाय का दूध ही है। भारतीय...

1 2 3 8