item-thumbnail

अमेरिका में राहुल की गप्पबाजी

0 October 5, 2017

जिन दिनों सोनिया कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी अमेरिका में गए हुए थे। वहां वे अमेरिका के विश्वविद्यालयों में जाकर भारत में दरपेश समस्याओं के बारे ...

item-thumbnail

मासूम के साथ हैवानियत

0 September 22, 2017

सात साल के मासूम का शरीर खून से सना हो….ऊफ। हम इतने बड़े हैवान हो गए हैं। रेयान इंटरनेशनल स्कूल, गुरुग्राम में प्रद्युम्न ठाकुर हत्याकांड के ताज...

item-thumbnail

विकृत धार्मिकता और अंध-आस्था से मुक्ति मिले

0 September 6, 2017

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को बलात्कार के मामले में पंचकूला की सीबीआई अदालत द्वारा दोषी ठहराए जाने के बाद बड़े पैमाने पर उपद्रव, आगजन...

item-thumbnail

राम-रहीम को   सजा राजनीति को कथित धार्मिक समर्थन पर चोट

0 September 6, 2017

डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम इंसान अब सलाखों के पीछे हैं। उच्च न्यायपालिका से उन्हें राहत मिलने के आसार कम हैं, इसलिए अब यह मान लेना चाहि...

item-thumbnail

अनुच्छेद 35 ए की विवेचना जरूरी

0 August 24, 2017

जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने संविधान के अनुच्छेद 35 ए में बदलाव के मुद्दे को उठाते हुए चेतावनी दी कि अगर इसमें बदलाव होता है तो कश्मीर...

item-thumbnail

तब कलाम अब कोविंद

0 July 28, 2017

रामनाथ कोविंद देश के — वे राष्ट्रपति तथा दूसरे दलित राष्ट्रपति होंगे। उनका दलित होना रायसीना की रेस का प्रमुख मुद्दा रहा। भाजपा के दलित कार्ड का...

item-thumbnail

क्या कश्मीर में बकरा पार्टी की लड़ाई अपने अंतिम दौर में पहुंच गई है?

0 July 13, 2017

मौलाना अबुल कलाम आज़ाद हिन्दुस्तान के पहले शिक्षा मंत्री थे। इससे पहले वे भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के प्रधान भी रह चुके थे। मुसलमानों के वे बहुत बड़े...

item-thumbnail

दिल्ली से उखड़ गये कांग्रेस-केजरी

0 May 4, 2017

दिल्ली नगर निगम चुनाव में जनता ने काग्रेस और आप दोनों को बुरी तरह नकार दिया है, और भाजपा को तीनों नगर निगमों में प्रचंड बहुमत से जितवा कर नरेन्द्र मोद...

item-thumbnail

वामपंथी हुए बेनकाब

0 March 22, 2017

माओवादियों से संबंध रखने के सिलसिले में 2014 में गिरफ्तार हुए दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रोफेसर जीएन साईंबाबा को महाराष्ट्र की गढ़चिरौली सेशंस कोर्ट ने...

item-thumbnail

सबको सन्मति दे भगवान

0 January 26, 2017

यह सही है कि लफ़्ज़ों में इतनी ताकत होती है कि किसी पुरानी डायरी के पन्नों पर कुछ समय पहले चली हुई कलम आज कोई तूफान लाने की क्षमता रखती है लेकिन किसी डा...

1 2 3 7